बस्ती चेतना में आप का स्वागत है। बस्ती चेतना पर विज्ञापन देकर सस्ते दरों का लाभ उठायें। संपर्क 7007259802

कचहरी में साइकिल, मोटरसाइकिल स्टैंड की मांग

0 129

देवरिया ब्यूरो (ओपी श्रीवास्तव) उत्तर प्रदेश के देवरिया के जिला अदालत में दूर दराज से प्रतिदिन सायकिल व मोटरसाइकिल से हजारों लोग आते हैं। लेकिन सायकिल, मोटरसाइकिल स्टैंड की व्यवस्था यहां नहीं है। परिणाम स्वरूप जिला अदालत के मेंन गेट पर प्रतिदिन सैकड़ों वाहन सड़क पर खड़े होते हैं। नतीजा ये है कि जाम और अफरा तफरी का माहौल सुबह से लेकर शाम तक बना रहता है।

अधिवक्ताओं के दो पहिया या चार पहिया वाहनों लिए भी वाहन स्टैंड या पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। जिससे वाहन इधर उधर मजबूरी में बेतरतीब खड़ी होती है। दिक्कतें तब और बढ़ जाती है जब बरसात में दो पहिया वाहनों के इंजन में पानी घुस जाता है और वाहन स्टार्ट नहीं होता है। इस सम्बन्ध में कई अधिवक्ताओं ने कहा कि देवरिया न्यायालय परिसर में वाहन स्टैंड की नितांत आवश्यकता है। लेकिन उच्च न्यायालय ने कैंटिन बनाने के लिए (दीवानी कचहरी परिसर के उत्तर तरफ) धन अवमुक्त कर दिया है। कैंटिन बनाने के नाम पर दर्जनों सम्मानित नए व पुराने अधिवक्ताओं को विस्थापित करने की तैयारी की जा रही है।

बड़ी बात यह है कि शायद ही कभी किसी अधिवक्ता संघ ने कैंटिन बनाने के लिए कभी कोई मांग या प्रस्ताव जिला जज के सामने रखा हो? नियमित रूप से वकालत करने वाले वकीलों ने कहा कि यहां जरूरत है अधिवक्ताओं व वादकारियों की बढ़ती संख्या के अनुरूप उनके बैठने के लिए बढ़िया कमरों व भवनों की। एक महिला अधिवक्ता ने कहा यदि उच्च न्यायालय के पास अतिरिक्त धनराशि है तो वह यहां महिला अधिवक्ताओं के सभी हितों को ध्यान में रखते हुए उनके लिए अलग से भवन या हाल बनवा दे। कुल मिलाकर दीवानी कचहरी के एडवोकेटस की मांग है कि कचहरी परिसर में वाहन स्टैंड बनाया जाय और भवन या कमरे बने। जिसका सीधा लाभ अधिवक्ता बन्धुओं और वादकारियों को मिलेगा। कुछ पुराने वकीलों ने अपने अनुभवो को साझा करते हुए टिप्पणी की कि कितने प्रतिशत लोग कैंटिन में भोजन या काफी का स्वाद लेंगे। यह तो भविष्य के गर्त में है। लेकिन कैंटिन के अलावा कई मूलभूत जरूरतें सुरसा की तरह मुह फैलाये है।

- Advertisement -

Government Ad
Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!