ब्रेकिंग
18 मई 2021 का राशिफल जानिये आचार्य कौशलेन्द्र जी से शादी समारोहों में अब केवल 25 लोगों की होगी मौजूदगी यूपी के मंत्री की कोरोना से मौत, चरथावल से चुने गये थे विधायक गुण्डों द्वारा सरेआम पत्रकार की पिटाई को मामूली धाराओं में निपटाना चाहती है पुलिस चुनावी रंजिश भूलकर शांति बनाये रखें, वरना सख्ती से निपटेगी पुलिस दाने दाने को मोहताज था परिवार, एसओ रूधौली ने दिखाई दरियादिली बेलहिया हत्याकांड में 3 और गिरफ्तार पत्रकार पर हुये प्राणघातक हमले में स्टोरी प्लान्ट करने में जुटा प्रशासन, पीड़ित ने तहरीर देकर मांगा न्याय साथी को रिहा कराने में एकजुट हुये पत्रकार, मामूली धारा में एसडीएम ने भेजा था जेल चौ. अजीत सिंह की तेरहवीं पर राजा ऐयवर्यराज सिंह सहित समर्थकों ने दी श्रद्धांजलि

बस्ती चेतना में आप का स्वागत है। बस्ती चेतना पर विज्ञापन देकर सस्ते दरों का लाभ उठायें। संपर्क 7007259802

डीएम ने पशुपालकों को बताया ईयर टैगिंग के फायदे

0 50

बस्तीः जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने जनपद के पशुपालकों से अपने पशुओं का ईयर टैगिंग कराने की अपील किया है। अपने संदेश में उन्होंने कहा है कि जानवरों का टैगिंग कराने से जहां एक और उनकी सुरक्षा बढ़ती है वहीं दूसरी ओर शासकीय योजनाओं का लाभ भी मिलता है। उन्होंने कहा है कि शासन द्वारा जानवरों के टैगिंग का कार्य शुरू किया गया है।

जानवरों का टैगिंग करने के बाद इसका डाटा पशुपालक का नाम, मोबाइल नंबर, उनका पता एवं अन्य जानकारियां ऑनलाइन पशुपालन विभाग के पोर्टल पर फीड की जाती हैं। यह एक प्रकार का आधार कार्ड की तरह कार्य करता है। जानवर के कहीं गुम हो जाने पर टैगिंग के द्वारा उसका पता लगाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि जानवरों की सुरक्षा के लिए उन्हें कई प्रकार के टीके लगाए जाते हैं। टैग लगे होने पर मॉनिटरिंग करने में सुविधा होती है। टैग पर लगे नंबर को मोबाइल से स्कैन करने पर उसका डाटा स्क्रीन पर शो करने लगता है और यह पता चलता है कि इस जानवर को कब कौन सा टीका लग गया है। जिलाधिकारी ने कहा है कि पशुपालन विभाग द्वारा स्थापित पशु चिकित्सालय द्वारा टैग लगाने का कार्य निःशुल्क किया जा रहा है।

- Advertisement -

Government Ad
Leave A Reply

Your email address will not be published.